जानिए-26 जनवरी को ही क्यों मनाया जाता है गणतंत्र दिवस, इसलिए है इस दिन का महत्व

2
280
26 JANUARY
download

26 जनवरी Republic Day

भारत में प्रत्येक साल 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस मनाया जाता है।इसी दिन भारत का संविधान लागू हुआ था।

Republic Day

भारत अपने गणतंत्र दिवस के मौके पर किसी विदेशी राष्ट्राध्यक्ष को मुख्य अतिथि के रूप में बुलाता है।

इंडिया गेट पर राज्यों की झांकियां निकाली जाती हैं!और राष्ट्रपति को 21 तोपों की सलामी दी जाती है।आइए जानते हैं कि भारतवासियों के लिए क्यों खास है यह दिन- 

खास 26जनवरी 
वर्ष 1929 के दिसंबर महीने में लाहौर में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस का अधिवेशन हुआ।

इसकी अध्यक्षता पंडित जवाहरलाल नेहरू कर रहे थे।

भारत ने 26 जनवरी 1930 को स्वतंत्रता दिवस के रूप में मनाया।

इसके बाद देश आजाद हुआ और 15 अगस्त को भारत के स्वतंत्रता दिवस के रूप में स्वीकार किया गया।हमारा संविधान 26 नवंबर 1949 तक तैयार हो गया था।

तब जो नेता थे उन्होंने दो महीने और रुकने का निर्णय लिया।और फिर 26 जनवरी 1950 को संविधान लागू हुआ

और इस दिन को तब से गणतंत्र दिवस के रुप में मनाया जाता है।

26 नवंबर

संविधान दिवस
भारत के आजाद होने के बाद संविधान सभा का गठन हुआ।संविधान सभा ने अपना काम 9 दिसंबर 1946 से शुरू किया।

दुनिया का सबसे बड़ा लिखित संविधान 2 साल, 11 माह, 18 दिन में तैयार हुआ।

संविधान सभा के अध्यक्ष डॉ. राजेन्द्र प्रसाद को 26 नवंबर 1949 को भारत का संविधान सौंपा गया, इसलिए

डॉ. भीमराव अंबेडकर
संविधान सभा के सदस्य भारत के राज्यों की सभाओं के निर्वाचित सदस्यों के द्वारा चुने गए थे।

डॉ. भीमराव आंबेडकर, जवाहरलाल नेहरू, डॉ. राजेन्द्र प्रसाद,

सरदार वल्लभ भाई पटेल, मौलाना अबुल कलाम आजाद इस सभा के प्रमुख सदस्य थे।

Republic Day

संसद भवन

 
भारतीय संविधान की दो प्रतियां जो हिंदी और अंग्रेजी में हाथ से लिखी गई।

गणतंत्र दिवस की पहली परेड 1955 को दिल्ली के राजपथ पर हुई थी।

29 जनवरी को विजय चौक पर बीटिंग रिट्रीट सेरेमनी का आयोजन किया जाता है, जिन्होंने देश के आज़ादी में बलिदान दिया।

इस बार गणतंत्र दिवस के मुख्य अतिथि के रूप में

दक्षिण अफ्रीका के राष्ट्रपति सिरिल रामफोसा को

आमंत्रित किया गया है।

हालांकि पहले चर्चा था कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप मुख्य अतिथि के रूप में गणतंत्र दिवस समारोह में शामिल होंगे। 

click hee

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here